Esic Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana : नौकरी छूट जाने पर भी 3 महीने तक मिलेगा सैलरी इस योजना के तहत,जानिए इसके बारे में

Esic Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana : नौकरी छूट जाने पर भी 3 महीने तक मिलेगा सैलरी इस योजना के तहत,जानिए इसके बारे में

ईएसआईसी अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना क्या है?

ईएसआईसी “अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना” 1 जुलाई 2018 से लागू हो चुकी है और इस योजना के तहत यदि किसी कारणवश आपकी नौकरी चली जाती है और आपको अगले 3 महीने तक अर्थात 90 दिनों तक नौकरी नहीं मिलती है तो आपको इसके लिए 3 महीनों का अनइंप्लॉयमेंट बेनिफिट (बेरोजगारी भत्ता) आपके बैंक खाते में मिलेगा| लेकिन इसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है तभी आप ESIC के “ATAL BIMIT VYAKTI KALYAN YOJNA” का लाभ ले सकते हैं| तो चलिए आज के पोस्ट में हम इस योजना के बारे में पूरी जानकारी आपको बताते हैं|

ESIC “ATAL BIMIT VYAKTI KALYAN YOJNA” (ABVKY) का लाभ कब और कैसे ले सकते हैं

  • रिलीफ पीरियड के दौरान पूरी तरह से कर्मचारी Unemployed होना चाहिए अर्थात किसी और जॉब में कार्यरत नहीं होना चाहिए|
  • कर्मचारी द्वारा कम से कम लगातार 2 साल की Insured Service की होनी चाहिए अर्थात कम से कम 2 साल Esic में कंट्रीब्यूशन किया होना चाहिए|
  • इस 2 साल सर्विस में भी हर कंट्रीब्यूशन पीरियड में कम से कम 78 दिनों का कंट्रीब्यूशन अदा किया क्या होना चाहिए|
  • 1 वर्ष में दो कंट्रीब्यूशन पीरियड होते हैं पहला अक्टूबर से मार्च और दूसरा अप्रैल से सितंबर इस तरह आपके 2 वर्ष की सर्विस में कुल 4 कंट्रीब्यूशन पीरियड हो जाते हैं|
  • इस दौरान आपके साथ-साथ आपके नियोक्ता का भी कंट्रीब्यूशन जमा हुआ होना चाहिए|
  • यदि आपकी जॉब किसी दुराचार के कारण जाती है या तो फिर आपने अपने ऑर्गेनाइजर के खिलाफ किसी तरह की क्राइम कर दी हो या आपके रिटायरमेंट की उम्र हो गई हो अथवा आपने स्वेच्छा से रिटायरमेंट ले ली हो तो इस कंडीशन में आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं|
  • आपकी आधार और बैंक खाता आपके ईएसआईसी अकाउंट में लिंक होना आवश्यक है क्योंकि इसका लाभ सीधे बैंक खाते में दिया जाता है|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना (ABVKY) की कुछ अन्य शर्तें

  • यदि आप एक पार्ट टाइम जॉब करते हैं और आपकी एक जॉब चली जाती है पर आपके पास और भी कोई जॉब है, तो भी आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते क्योंकि इस योजना के तहत पूरी तरीके से अनइंप्लॉयड होना जरूरी है|
  • आपको ईएसआईसी की तरफ से किसी अन्य तरह का CASH BENIFIT नहीं दिया जाएगा यदि आप इसके तहत लाभ ले रहे हैं| लेकिन परमानेंट डिसेबिलिटी का लाभ आपको मिलता रहेगा|
  • और यदि आप इस योजना का लाभ ले रहे हैं तो आपको इसकी समानता का कोई और लाभ नहीं मिलेगा यदि आपने कोई और लाभ लिया तो आपको इस योजना के तहत लाभ से हटा दिया जाएगा|
  • इस योजना का लाभ लेने के दौरान आप बाकी मेडिकल लाभ भी ले सकते हैं जो आप ESIC से लेते हैं|

किस स्थिति में लागू होगा यह नियम (ATAL BIMIT VYAKTI KALYAN YOJNA)

यदि आपकी नौकरी छूट गई है और आप नौकरी तलाश कर रहे हैं लेकिन 90 दिनों तक आपको कोई नौकरी नहीं मिलती तो ऐसी स्थिति में आपको “अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना” के तहत नगद मुआवजा दिया जाएगा और इस योजना का लाभ पूरी जिंदगी में एक ही बार किया जा सकता है अर्थात यदि आपने पूरे 3 महीने का लाभ इस योजना के तहत ले लिया है तो आप दोबारा कभी इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं| यदि आपने 1 महीने का लाभ लिया है तो आप अगले 2 महीने का लाभ अगली बार कभी भी ले सकते हैं ऐसी स्थिति के तहत|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना (ABVKY) के तहत अयोग्यता या समाप्ति

यहां पर आपको कुछ बातें यह भी ध्यान रखनी है जिसके तहत आप इस योजना के लाभ लेने से बाहर हो सकते हैं-

  • यदि आपकी फैक्ट्री में लॉकआउट है तो आप इसके लिए मान्य नहीं होंगे|
  • यदि कंपनी के कर्मचारियों ने स्ट्राइक की है और वह स्ट्राइक अथॉरिटी द्वारा इनलीगल घोषित कर दिया है तो भी आप इसके लिए मान्य नहीं होंगे|
  • यदि आपने मर्जी से नौकरी छोड़ी है अथवा रिटायरमेंट ली है तो भी आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते|
  • यदि आपका कंट्रीब्यूशन esic में 2 वर्षों से कम है तो भी आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते|
  • यदि आप की रिटायरमेंट की उम्र हो गई है, इस योजना का लाभ नहीं ले सकते|
  • यदि आपने किसी तरह का क्राइम किया हो तो भी आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते|
  • यदि आपके लाभ पाने के दौरान 3 महीने से पहले नौकरी मिल जाती है तो आपकी यह सेवा रोक दी जाएगी लेकिन आपके बचे हुए सेवाकाल का लाभ आगे ले सकते हैं अर्थात यदि आपने 1 महीने का RILIEF इस योजना के तहत ले लिया है तो आप बचे दो महीने की लाभ आगे चल कर ले सकते हैं|
  • अनुशासनात्मक कार्यवाही द्वारा हटाया गया हो|
  • कर्मचारी की मृत्यु हो जाने पर इसका बेनिफिट नहीं मिलेगा|

ATAL BIMIT VYAKTI KALYAN YOJNA (ABVKY) का बेनिफिट कितना मिलेगा और इसे कैसे कैलकुलेट करते हैं?

इसके तहत आपको आपके 1 दिन की WAGES का अधिकतम 25% अमाउंट ही दिया जाएगा|
इसकी कैलकुलेशन ऐसे करें-
2 साल की वेजेस सैलरी का टोटल करें और उसे भाग कर दें 730 से, जो निकल कर आता है उसे गुणा कर दें 25 से,और भागित कर दें 100 से, और उसे गुणा कर दें 90 से| इससे आपका टोटल नगद भुगतान निकल जाएगा जो आपको 3 महीने में दिया जाएगा योजना का लाभ लेने के दौरान|

उदाहरण

जैसा कि ऊपर दिए गए चित्र में आप देख सकते हैं कि 2 साल में कुल 4 कंट्रीब्यूशन पीरियड होते हैं और यदि आपकी इन चारों कंट्रीब्यूशन पीरियड में आपकी वेजेस प्रत्येक कंट्रीब्यूशन पीरियड में ₹60,000 है तो आपकी चारों कंट्रीब्यूशन पीरियड में टोटल वेजेस ₹240000 हो जाती है|
तो इसे नियम के तहत कैलकुलेशन करने पर ₹7397 निकल कर आती है जो आपको 90 दिनों के लिए Unemployment Benifit दी जाएगी|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन क्लेम कैसे करें?

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको ईएसआईसी के पोर्टल पर जाकर CLAIM सबमिट करना पड़ेगा, जिसके लिए आपको ESIC के पोर्टल पर “अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना” का एक लिंक मिलेगा जहां पर आपको कुछ जानकारियां भरनी हैं, जैसे कि आपने कितने समय के लिए नौकरी की है आपकी नौकरी छूटने का कारण क्या है और थोड़ी बहुत कुछ जानकारियां| इसके बाद सॉफ्टवेयर यह बता देगा कि आप इस योजना का लाभ पाने के लिए पात्र हैं अथवा नहीं| यदि आप इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र हैं तो आपको यहां पर दो फॉर्म जनरेट करके दिए जाएंगे FORM AB1 और FORM AB2.
FORM AB1 को आपको भरना है और FORM AB2 को आपको अपने नियोक्ता से भरवाना है जहां से आपकी नौकरी छूट गई है और इन दोनों ही FORM का प्रिंटआउट निकाल कर आपको अपनी EMPLOYER से सिग्नेचर करवाकर यह ESIC के ब्रांच ऑफिस में जमा करने हैं| इसके बाद ब्रांच ऑफिस द्वारा निर्णय लिया जाने के बाद आपके बैंक खाते में यह मुआवजा की राशि भेज दी जाएगी| यदि आप इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्र नहीं हैं तो आपको यह ESIC की पोर्टल पर ही ERROR दिखा दिया जाएगा और FORM AB1 और FORM AB2 जनरेट करके नहीं दिया जाएगा|

आशा करते हैं कि आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी तो प्लीज आप नोटिफिकेशन पाने के लिए सब्सक्राइब करें ताकि आगे भी ऐसी जानकारियां आप तक पहुंचा सकें|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *