Advertisement

1.35 करोड़ ESIC लाभार्थियों को आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पतालों में कैशलेस उपचार की सुविधा

चार राज्यों- छत्तीसगढ़, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र- के 113 जिलों के 1.35 करोड़ ईएसआई लाभार्थियों को आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पतालों में कैशलेस उपचार की सुविधा पीएम-जेएवाई के लाभार्थी बिहार, गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के राज्यों में निर्धारित क्षमता से कम उपयोग में लाये गये ईएसआईसी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में कैशलेस उपचार का लाभ उठा सकते हैं|

केन्द्रीय श्रम मंत्री ने कोविड-19 महामारी के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालेईएसआईसी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों के डीन/चिकित्सा अधीक्षक और राज्यों के इंश्योरेंस मेडिकल सर्विस के निदेशकों को सम्मानित किया

नई दिल्ली में 10 मार्च 2021 को ईएसआईसी विशेष सेवा पखवाड़े के समापन दिवस पर ईएसआईसी के अध्यक्ष और माननीय श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री संतोष कुमार गंगवार ने छत्तीसगढ़, कर्नाटक, मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र के 113 जिलों में आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई के साथ ईएसआई योजना के समेकनका शुभारंभ किया। इस समेकनसे इन जिलों में 1.35 करोड़ ईएसआई लाभार्थी द्वारा बिना किसी रेफरल की आवश्यकता के आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई के सूचीबद्ध अस्पतालों के माध्यम से कैशलेस चिकित्सा सेवाओं का लाभ लेना सुनिश्चित हो सकेगा। इस किस्म की चिकित्सा का लाभ पाने के लिए, बीमित कामगारों या लाभार्थी को अपने साथ ईएसआईसी ई-पहचान कार्ड या स्वास्थ्य पासबुक और आधार कार्ड कोलेकर जानाहोगा। जिलों एवं सूचीबद्ध अस्पतालों की सूची www.esic.nic.in/ab-pm-jay पर उपलब्ध है।

इसी तरह, पीएम-जेएवाई के लाभार्थी बिहार, गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के राज्यों में निर्धारित क्षमता से कम उपयोग में लाये गये ईएसआईसी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में कैशलेस उपचार का लाभ उठा सकते हैं।
 

केन्द्रीय श्रम मंत्री ने कोविड-19 महामारी की अवधि के दौरान सिर्फ कामगारों को ही नहीं बल्कि आम लोगों को भी चिकित्सीय देखभाल प्रदान करने के लिए ईएसआईसी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों और ईएसआईएस अस्पतालों की सराहना की। इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने राज्य सरकारों के ऐसे ईएसआईसी अस्पतालों/मेडिकलएवं डॉक्टोरेट इंश्योरेंस मेडिकल सर्विस को भी सम्मानित किया, जिन्होंने महामारी के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ