ईएसआईसी कंट्रीब्यूशन दर में कटौती -होगा सभी को फायदा

ईएसआईसी कंट्रीब्यूशन दर में कटौती -होगा सभी को फायदा

दोस्तों,वर्तमान सरकार ने ईएसआईसी कंट्रीब्यूशन दर घटा दी है| जिससे देश भर के करोड़ों कर्मचारियों एवं नियोक्ता को इसका सीधा लाभ मिलेगा| आपको बता दें कि फिलहाल ईएसआईसी में कर्मचारी की 1.75% तथा नियोक्ता की 4.75% योगदान रहती है, जो कि कुल मिलाकर 6.5% बनती है| किंतु नए नियम लागू हो जाने के बाद कर्मचारी के दर 1.75% से घटाकर 0.75% हो जाएगी| और नियोक्ता की ईएसआईसी में कंट्रीब्यूशन दर 4.5% से घटाकर 3.5% हो जाएगी| इस तरह ईएसआईसी में कर्मचारी एवं नियोक्ता की योगदान दर 6.5% से घटकर 4% हो जाएगी|

रिपोर्ट के मुताबिक यह नई दर 1 जुलाई 2019 से लागू कर दी जाएगी और ऐसे में करोड़ों कर्मचारियों और नियोक्ताओं को इसका सीधा सीधा लाभ पहुंचेगा | और भले ही ईएसआईसी की योगदान दर घट जाएगी किंतु इसकी लाभ एवं सुविधाएं बरकरार रहेंगी और ईएसआईसी दर घटने से कर्मचारियों को वेतन में वृद्धि प्राप्त होगी तथा नियोक्ताओं को वित्तीय बोझ कम करने का अवसर मिलेगा|

ईएसआईसी उन सभी कंपनियों तथा संस्थाओं में लागू होती है जिनके अंतर्गत 10 या 10 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं एवं जिनकी बेसिक सैलरी ₹21000 तक है उनका ईएसआईसी में पंजीयन आवश्यक है| और वह कर्मचारी जो ईएसआईसी के दायरे में आते हैं स्वास्थ्य बीमा का लाभ ले सकते हैं| ऐसे में उनकी तथा उनके परिवार की स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का समाधान ईएसआईसी द्वारा किया जाता है जिसके तहत मेडिकल बेनिफिट, कैश बेनिफिट, ट्रीटमेंट बेनिफिट इत्यादि शामिल हैं|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *